सोमालिया: मोगादिशु में ‘जघन्य’ बम हमलों की कठोर निंदा |

यूएन के शीर्षतम अधिकारी के प्रवक्ता स्तेफ़ान दुजैरिक ने महासचिव की ओर से रविवार शाम एक वक्तव्य जारी किया, जिसमें उन्होंने इन जघन्य हमलों की कठोर शब्दों में निंदा की है.

यूएन प्रमुख ने दोहराया है कि हिंसक चरमपंथ के विरुध लड़ाई में संयुक्त राष्ट्र, सोमालिया के साथ एकजुट है.

मोगादिशु के एक व्यस्त इलाक़े में शनिवार को हुए दो कार बम धमाकों में सैकड़ों लोग हताहत हुए. बताया गया है कि दोनों धमाके कुछ ही मिनटों के भीतर हुए, जिससे घटनास्थल के आसपास की इमारतों और वाहनों को नुक़सान पहुँचा.  

यूएन प्रमुख ने हमले के पीड़ितों और उनके परिजनों के प्रति अपनी गहरी सम्वेदना व्यक्त की है, जिनमें संयुक्त राष्ट्र कर्मचारी, सरकारी कर्मचारी और सोमालिया के आम नागरिक हैं.

उन्होंने घायलों के जल्द स्वस्थ होने की कामना की है, और शांतिपूर्ण व समृद्ध सोमालिया के लिये समर्थन सुनिश्चित करने की प्रतिबद्धता व्यक्त की है.

मानवीय राहत मामलों में संयोजन के लिये यूएन कार्यालय के प्रमुख और अवर महासचिव मार्टिन ग्रिफ़िथ्स ने हमले के पीड़ितों के प्रति अपनी सम्वेदना व्यक्त करते हुए कहा है कि आम नागरिकों को निशाना नहीं बनाया जाना चाहिये.

यूएन के शीर्ष अधिकारी ने बताया कि उन्होंने सोमालिया का दो महीने पहले दौरा किया था, और देश एक विनाशकारी अकाल के कगार पर है.

इन हालात में ऐसी हिंसक कृत्य, समर्थन प्रदान करने के प्रयासों को और अधिक कठिन बनाते हैं.

सोमालिया में यूएन सहायता मिशन (UNSOM) ने अपने एक ट्वीट संदेश में मोगादिशु के K-5 जंक्शन पर हमले की कड़े शब्दों में निंदा की है.

यूएन मिशन ने भरोसा दिलाया है कि आतंकवाद के विरुद्ध, संयुक्त राष्ट्र सभी सोमाली नागरिकों के साथ मज़बूत संकल्प के साथ खड़ा है.

Source: संयुक्त राष्ट्र समाचार

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *