जलवायु और स्वास्थ्य पर अधिक जानकारी के लिये एक नया पोर्टल | Climate Action

जलवायु और स्वास्थ्य आपस में गुँथे हुए हैं. जलवायु परिवर्तन, चरम मौसम घटनाएँ और पर्यावरणीय गिरावट से उत्पन्न दुर्दशा का मानव स्वास्थ्य और कल्याण पर व्यापक प्रभाव पड़ रहा है.

ख़राब पानी और हवा की गुणवत्ता से लेकर संक्रामक रोगों व गर्मी के तनाव तक जैसे जलवायु सम्बन्धी स्वास्थ्य जोखिमों से, अभूतपूर्व संख्या में लोग प्रभावित हैं.

गहराता जलवायु संकट

यूएन स्वास्थ्य एजेंसी – WHO के जलवायु परिवर्तन और स्वास्थ्य कार्यक्रम के समन्वयक डायर्मिड कैम्पबेल-लेंड्रम ने कहा है, “जलवायु परिवर्तन इस समय लोगों की जानें ले रहा है, जीवित रहने के लिये ज़रूरी स्वच्छ हवा, सुरक्षित पानी, भोजन और आश्रय जैसी बुनियादी ज़रूरतें प्रभावित हो रहीं हैं. सर्वाधिक संवेदनशील हालात में रहने के लिये मजबूर लोग, इस बदलाव से सर्वाधिक प्रभावित हैं.”

“कईं दशकों में हुई वैश्विक स्वास्थ्य में प्रगति इस निरन्तर हो रहे जलवायु परिवर्तन से धीमी हो सकती है. इसके प्रभावों को कम करने के लिये सर्वोत्तम उपलब्ध विज्ञान और उपकरणों से समर्थित साक्ष्य-आधारित नीति की आवश्यकता है.”

जीवनरक्षक विज्ञान

स्वास्थ्य एजेंसी का कहना कि रोग पूर्वानुमान और गर्मी के बारे में पूर्व चेतावनी देने वाली स्वास्थ्य प्रणालियाँ जैसे, सार्वजनिक स्वास्थ्य के लिये अनुकूल जलवायु और पर्यावरण विज्ञान व उपकरणों का प्रयोग करने में, जीवन बचाने की बहुत सम्भावनाएँ हैं.

एजेंसी के अनुसार, ये उपकरण हमें जलवायु और स्वास्थ्य के बीच के सम्बन्ध को बेहतर समझा सकते हैं. इन संसाधनों से हम  प्रभावों का अनुमान लगाते हुए संवेदनशील लोगों तक पहुँचने में, और इनके प्रभावों को कम करने में हमारी मदद कर सकते हैं.

आपकी जानकारी के लिये एक नवीन मंच

स्वास्थ्य संगठन (WHO) और विश्व मौसम विज्ञान संगठन (WMO) ने स्वास्थ्य, पर्यावरण और जलवायु विज्ञान से जुड़ी सभी महत्वपूर्ण जानकारी उपलब्ध कराने के इरादे से, यह नया वैश्विक मंच तैयार किया है.

ये नई वेबसाइट WHO-WMO संगठनों की विशेषज्ञता और विज्ञान को एक साथ लाते हुए, एक संयुक्त तकनीकी कार्यक्रम के सार्वजनिक चेहरे का प्रतिनिधित्व करती है.

स्वास्थ्य विभाग में जलवायु जानकारी को इस्तेमाल करने के लिये जलवायु सूचना के उत्पादकों व उपयोग कर्ताओं के बीच मज़बूत भागेदारी और सहयोग की आवश्यकता होती है.

ClimaHealth स्वास्थ्य और जलवायु समुदायों को एक मंच पर लाने में मदद करेगा और बहु-विषयक शोध में, तेज़ी लाने में समर्थन देगा. नीति निर्माताओं से लेकर सामुदायिक समूहों को सूचित करने और उनसे निवेश कराने के लिए भी प्रोत्साहित करेगा.

वैलकम ट्रस्ट के लिये जलवायु प्रभाव व अनुकूलन की प्रमुख मैडेलीन थॉमसन का कहना है, “जलवायु परिवर्तन के स्वास्थ्य प्रभावों को समझने और उनसे निपटने में हमारी सहायता करने के लिये जलवायु, स्वास्थ्य और तकनीकी विशेषज्ञों के बीच सहयोग बेहद महत्वपूर्ण है, लेकिन फ़िलहाल, विशेषज्ञ उतने प्रभावपूर्ण तरीक़े से जानकारी को साझा नहीं कर पाते हैं जितना कि वो करना चाहते हैं.”

“हम उम्मीद करते हैं कि ClimaHealth.info नामक यह मंच, विभिन्न विषयों की सम्भावित क्षमता को पूरा करने में मदद करेगा. साथ ही, जलवायु परिवर्तन दुनिया भर में स्वास्थ्य को कैसे प्रभावित कर रहा है इस बारे में और जानकारी मिल सकेगी.”

वैश्विक पहुँच

इस वैसाइट को इस्तेमाल करने वाले लोग, वैश्विक विशेषज्ञों से जुड़ने में सक्षम होंगे, और साथ ही आगामी घटनाओं, समाचारों, अवसरों, तकनीकी संसाधनों व आँकड़ों, सीखने के उपकरण, व्यक्ति अध्ययन, और सहायक मार्गदर्शन से भी सहायता ले सकेंगे.

इस वैबसाइट पर आने वाले महीनों और वर्षों में नई व विविध सामग्री प्रकाशित की जाएगी.

Source: संयुक्त राष्ट्र समाचार

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *